Skip to main content

दंगल ने तोडा बाहुबली का रिकॉर्ड, लेकिन Bollywood की कोई भी फिल्म नहीं 400 crore club में


इधर Bahubali: The Conclusion ने India में सारे पुराने रिकार्ड्स तोड़ कर नए कीर्तिमान स्थापित किये, तो उधर आमिर खान की दंगल चीन में रिलीज़ के बाद फिर से highest-grossing Indian films बन गयी है.

ताज़ा आंकड़ों के मुताबिक Bahubali: The Conclusion अब तक Worldwide Box-Office पर लगभग 1,623 crore (US$250 million) का कारोबार कर चुकी है, वहीँ दूसरी तरफ चीन में धमाल मचाने के बाद दंगल 1,662 crore (US$260 million) के साथ सबसे ज्यादा कमाई करने वाली इंडियन फिल्म बन गयी है. हालांकि टक्कर अभी भी ज़ारी है क्योकि बाहुबली इंडिया में तो दंगल चीन के सिनेमा घरो में अभी भी अच्छी खासी कमाई कर रही है.


भले ही दंगल ने बाहुबली को अंतराष्ट्रीय स्तर पर मात दे दी हो, लेकिन हिंदी संस्करणों की बात करे तो दंगल ने 387.39 crore की कमाई की, तो बाहुबली-2 490+ crore के साथ सभी हिंदी फिल्मो से काफी आगे निकल चुकी है. इससे एक बात तो स्पष्ट हो जाती है कि आने वाले कुछ वर्षो में इन फिल्मो के रिकार्ड्स तोडना काफी मुश्किल होगा.

इधर Bollywood के निर्माताओं के लिए भी बाहुबली का रिकॉर्ड तोडना किसी चुनौती से कम नहीं. अब तक 300 crore का आंकड़ा सिर्फ सलमान खान और आमिर खान की फिल्मे ही तोड़ पायी है, तो दूसरी तरफ बीते दो वर्षो में शाहरुख़ खान की फिल्मे 200 crore का आंकड़ा भी नहीं छु पायी. ह्रितिक रोशन, रणबीर कपूर, अजय देवगन और  अक्षय कुमार की फिल्मे भी अभी 200 crore club के लिए ही संघर्ष कर रही है. ऐसे में अब 400 crore club में कोनसा अभिनेता अपना नाम दर्ज़ करवा पाने में कामयाब हो पाता है, ये देखना दिसलचस्प होगा.

Comments

Popular posts from this blog

पद्मावती विवाद: तब कहाँ थे फ़िल्म इंडस्ट्री वाले जब श्याम रंगीला को मोदी जी की मिमिक्री करने पर शो से निकाल दिया गया था?

पद्मावतीपरहोरहाबवालरुकनेकानामनहींलेरहाहै, जहाँएकतरफराजपूतसमाजसहिततमामहिन्दूसंगठनोनेपद्मावतीकोरिलीज़नाहोनेदेनेकामनबनारखाहैतोदूसरीओरपूरीफ़िल्मइंडस्ट्रीनेभीएकजुटहोकरइसविरोधकाविरोधकरनाशुरूकरदियाहै.

गौरतलबहैकिपद्मावतीविवादपरसंजयलीलाभंसालीकासमर्थनकरनेवालेफ़िल्मइंडस्ट्रीकेयेलोगतबकहाँ

फ़िल्म पद्मावती विवाद: परदे के पीछे का सच...!

संजयलीलाभंसालीकीफ़िल्मपद्मावतीघोषणाकेसाथहीविवादोंमेंघिरगयीथीऔरजैसे-जैसेफ़िल्मकेरिलीज़कीतारीख़नज़दीकआरहीहै, इसफ़िल्मपरविवादओरभीउग्रहोताजारहाहै. लेकिनजिसतरहसेइसफ़िल्म

जब स्मृति ईरानी ने मंत्री बनते ही बीच में ही छोड़ दी थी फ़िल्म, फ़िर एक महारानी को इस तरह से नचाना कैसे बर्दाश्त करे हम?

केंद्रीयमंत्रीस्मृतिईरानीअभिनेत्रीरहचुकीहैजिन्होंनेबहुतसेधारावाहिकोकेज़रियेअपनीपहचानबनाईथी।लेकिनराजनीतिकारुख़करनेकेबादवोअभिनयकेक्षेत्रमेंज़्यादासक्रीयनहींरही।लेकिनबहुतसेकमलोगजानतेहैकिमोदीजीकेकैबिनेटमेंमंत्रीबनने